{Best 2024} स्वार्थी लोग मतलबी रिश्ते शायरी – झूठे मतलबी रिश्ते शायरी

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

स्वार्थी लोग मतलबी रिश्ते शायरी: कुछ हमारे अपने ऐसे भी होते है, जो स्वार्थी और मतलबी होते है। इसलिए हम यहाँ आपके साथ झूठे मतलबी रिश्ते शायरी और स्वार्थी मतलबी रिश्तेदार पर शायरी साझा करने जा रहे है।

स्वार्थी लोग शायरी, स्वार्थी लोग स्टेटस, स्वार्थी रिश्तेदार स्टेटस, मतलबी रिश्ते शायरी, मतलबी लोग शायरी, स्वार्थी लोगों के लिए स्टेटस, झूठे रिश्ते शायरी !

स्वार्थी लोग मतलबी रिश्ते शायरी

लोग रिश्ते बनाते ही है अपनी जरुरत के लिए,
उनके लिए रिश्ते होते है केवल मतलब के लिए।

Log rishte banate hi hai apni jarurat ke liye,
Unke liye rishte hote hi hai kewal matlab ke liye.

स्वार्थी-लोग-मतलबी-रिश्ते-शायरी (1)

*****

पूरी दुनिया मतलबी सी लगने लगती है,
जब कोई अपना ही मतलबी हो जाता है।

Puri duniya matlabi si lagne lagti hai,
Jab koi apna hi matlabi ho jaata hai.

*****

स्वार्थ इंसान इतना अंधा बना देता है,
कि उसे अपने रिश्ते भी नज़र नहीं आते।

Swarth insan itna andha bana deta hai,
Ki use apne rishte bhi nazar nahi aate.

*****

जब स्वार्थ रिश्तों में अपनी जगह बना लेता है,
तो मजबूत से मजबूत रिश्तों में भी दरार आ जाती है।

Jab swarth rishton mein apni jagah bana leta hai,
To majbut se majbut rishto mein bhi darar aa jaati hai.

*****

ये दुनिया बड़ी मतलबी निकली ग़ालिब,
यहाँ तो हमारे अपने ही स्वार्थी निकले।

Ye duniya badi matlabi nikali ghalib,
Yahan to hamare apne hi swarthi nikle.

*****

रिश्तों को निभाने के लिए मन साफ़ होना चाहिए,
जिसके मन में स्वार्थ हो वो कभी अपना नहीं हो सकता।

Rishto ko nibhane ke liye man saaf hona chahiye,
Jiske man me swarth ho wo kabhi apna nahi ho sakta.

*****

कुछ लोग रिश्ते ही इसलिए बनाते है,
क्योंकि वो रिश्तों में स्वार्थ रखते है।

Kuch log rishte hi isliye banate hai,
Kyonki wo rishto mein swarth rakhte hai.

*****

दूसरों को तो यूं ही बदनाम करते है,
असल में धोखा तो हमारे अपने ही देते है।

Dusro ko to yoon hi badnaam karte hai,
Asal mein dhoka to hamare apne hi dete hai.

*****

स्वार्थी लोगो पर कभी विश्वास मत करना,
इनका कोई भरोसा नहीं ये कब बदल जाए।

Swarthi logo par kabhi vishwas mat karna,
Inka koi bharosa nahi ye kab badal jaaye.

*****

किस किस को स्वार्थी कहे हम,
यहाँ तो हर कोई मतलबी है।

Kis kis ko swarthi kahe hum,
Yahan to har koi matlabi hai.

*****

इस मतलब की दुनिया में जरा संभल कर रहना,
क्योंकि यहाँ हर कोई अपने ही मतलब में रहता है।

Is matlab ki duniya mein jara sambhal kar rehna,
Kyonki yahan har koi apne hi matlab mein rehta hai.

*****

Content Are: स्वार्थी लोग मतलबी रिश्ते शायरी, स्वार्थी लोग शायरी, स्वार्थी लोग स्टेटस, स्वार्थी रिश्तेदार स्टेटस, मतलबी रिश्ते शायरी, मतलबी लोग शायरी, स्वार्थी लोगों के लिए स्टेटस, झूठे रिश्ते शायरी !

Also Read: Koi Kisi Ka Nahi Hota Shayari

झूठे मतलबी रिश्ते शायरी

मतलबी लोग मुँह पर तो मीठे होते है,
पर पीठ पीछे हमेशा कड़वी बातें करते है।

Matlabi log muh par to meete hote hai,
Par peeth piche hamesha kadwi baate karte hai.

स्वार्थी-लोग-मतलबी-रिश्ते-शायरी (2)

*****

अब क्या कहें जनाब हम उन लोगो के लिए,
जो रिश्ते रखते ही है अपने मतलब के लिए।

Ab kya kahe janab hum un logo ke liye,
Jo rishte rakhte hi hai apne matlab ke liye.

*****

दुश्मन भी हमें इतना नुकसान नहीं पहुंचाता है,
जितना हमें अपने स्वार्थी लोग नुकसान पहुंचाते है।

Dushman bhi hume itna nuksan nhi pahuchata hai,
Jitna hume apne swarthi log nuksan pahuchate hai.

*****

आजकल हर रिश्ता किसी न किसी
स्वार्थ या मतलब पर टिका हुआ है।

Aajkal har rishta kisi na kisi
Swarth ya matlab par tika hua hai.

*****

गिरगिट को भी रंग बदलने में समय लगता है,
पर मतलबी लोगो को रंग बदलने में कोई समय नहीं लगता।

Girgit ko bhi rang badalne me samay lagta hai,
Par matlabi logo ko rang badlane me koi samay nhi lagta.

*****

जिसके रिश्तेदार ही ऐसे हो,
उसे दुश्मनों की क्या जरुरत।

Jiske rishtedar hi aise ho,
Use dushmano ki kya jarurat.

*****

रिश्तों की अहमियत बहुत तेज़ी बदल रही है,
क्योंकि प्रेम की जगह स्वार्थ को जगह मिल रही है।

Rishton ki ahmiyat bahut tezi badal rahi hai,
Kyonki prem ki jagah swarth ko jagah mil rahi hai.

*****

झूठे मतलबी लोगो है यही कहानी,
भीतर उनके छल छुपा होता है
और दिखावे के लिए आँखों में पानी।

Jhuthe matlabi logo hai yahi kahani,
Bheetar unke chhal chupa hota hai
Aur dikhawe ke liye aankho mein paani.

*****

लोग अपने मतलब के लिए रिश्ते बनाते है,
और अपने मतलब के लिए ही उन्हें निभाते है।

Log apne matlab ke liye rishte banate hai,
Aur apne matlab ke liye hi unhe nibhate hai.

*****

ऐसे लोग छीन लेते है हमसे ख़ुशियों साडी,
जो दिखाते है तो यारी पर निभाते है गद्दारी।

Aise log chin lete hai humse khushiyon sari,
Jo dikhate hai to yaari par nibhate hai gaddari.

*****

वक़्त के साथ बदल जाती है रिश्तों की पहचान,
जो अपने होते थे वही लगने लगते कोई मेहमान।

Waqt ke sath badal jaati hai rishton ki pehchan,
Jo apne hote the wahi lagne lagte koi mehman.

*****

Content Are: मतलबी रिश्ते शायरी, स्वार्थी लोग मतलबी रिश्ते शायरी, झूठे मतलबी रिश्ते शायरी, स्वार्थी लोग शायरी, स्वार्थी लोग स्टेटस, स्वार्थी रिश्तेदार स्टेटस, मतलबी लोग शायरी, झूठे रिश्ते शायरी, स्वार्थी लोगों के लिए स्टेटस फॉर फेसबुक !

Also Read: Koi Apna Nahi Hota Shayari